Bengaluru Blast जानें कैसे हुआ कैफे में धमाका

Bengaluru Blast जानें कैसे हुआ कैफे में धमाका

Bengaluru Blast : बेंगलुरु के एक फेमस रेस्टूरेंट में शुक्रवार को बम विस्फोट की खबर के बाद खलबली मच गई. इस विस्फोट में 10 लोग घायल हो गये. रामेश्वरम कैफे में यह धमाका हुआ जिसके बाद कैफे के मालिक की प्रतिक्रिया आई. उन्होंने कहा कि कानून प्रवर्तन अधिकारियों के साथ सहयोग किया जा रहा है. कैफे ने एक बयान जारी करके कहा है कि हमारी ब्रुकफील्ड शाखा में दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई जिससे हम दुखी हैं. हम जांच अधिकारियों को सहयोग कर रहे हैं. कैफे की सह-संस्थापक दिव्या राघवेंद्र राव ने कहा कि हमारी ओर से घायलों को सहायता प्रदान की जा रही है. उन्होंने कहा कि हमारी संवेदनाएं घायलों और उनके परिवारों के साथ हैं. हम हरसंभव घायलों की सहायता कर रहे हैं. हम उनके शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं.

Bengaluru blast updates

विस्फोट के लिए टाइमर का इस्तेमाल

बेंगलुरु के रामेश्वरम कैफे में हुए विस्फोट पर कर्नाटक के गृह मंत्री डॉ. जी परमेश्वर ने कहा कि हमने जांच के लिए कई टीमें गठित की हैं. सीसीटीवी फुटेज से कुछ सबूत मिले हैं. जब विस्फोट हुआ, तो बीएमटीसी की एक बस उस रास्ते से गुजर रही थी. उन्होंने कहा कि हमारे पास जानकारी है कि वह एक बस में पहुंचा था. हम जल्द से जल्द आरोपियों तक पहुंचेंगे और उनकी गिरफ्तारी होगी. जांच में लगी टीम अच्छा काम कर रही है. विस्फोट के लिए टाइमर का इस्तेमाल किया गया था, एफएसएल टीम जांच कर रही है. मामले को लेकर दोपहर एक बजे हमारी बैठक है. सीएम सिद्धारमैया विस्फोट को लेकर उच्च स्तरीय पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करने वाले हैं.

Bengaluru Blast: कैफे में रखा था विस्फोटक..! सीएम सिद्धारमैया का बड़ा बयान- यहां देखिए CCTV फुटेज

जानें कौन हैं रामेश्वरम कैफे के मालिक राघवेंद्र राव और दिव्या राघवेंद्र राव?

रामेश्वरम कैफे के मालिक के बारे में लोग गूगल पर सर्च कर रहे हैं. तो आइए हम आपको उनके बारे में बताते हैं. दरअसल, राघवेंद्र राव एक मैकेनिकल इंजीनियर हैं जिनके पास फूड इंडस्ट्री का 20 वर्षों से अधिक का अनुभव है. वह आईडीसी किचन के संस्थापक और प्रमोटर हैं. वह रामेश्वरम कैफे चेन के संचालन को लीड करते हैं. दिव्या राघवेंद्र राव की बात करें तो वो चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं. उन्होंने आईआईएम अहमदाबाद से फाइनेंस और मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है. वह रामेश्वरम कैफे के मैनेजमेंट और फाइनेंस डिपार्टमेंट को हेड करतीं हैं. कंपनी की वेबसाइट पर नजर डालें तो, दिव्या राघवेंद्र राव के पास 12 साल से अधिक का वर्क एक्सपीरिएंस है.

बेंगलुरु सीपी ने की खास अपील

इस बीच खबर है कि रामेश्वरम कैफे में हुए विस्फोट के मामले में पुलिस ने IPC की धारा 307, 471 और UAPA की धारा 16, 18 और 38 के तहत FIR दर्ज की है. FIR में विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की धारा 3 और 4 भी जोड़ी गई हैं. इधर, बेंगलुरु सीपी ने कहा है कि जहां तक रामेश्‍वरम कैफे मामले की बात है तो जांच जारी है. अब तक मिले अलग-अलग सुरागों पर कई टीमें काम कर रही हैं. मामले की संवेदनशीलता और सुरक्षा चिंताओं को ध्यान में रखते हुए उन्होंने मीडिया से अपील की कि वे अटकलों में शामिल न हों और सहयोग करें.