प्रेगनेंसी में ना खाएं ये 5 चीजें

प्रेगनेंसी में ना खाएं ये 5 चीजें

प्रेगनेंसी के पहले महीने से लेकर तीन महीने तक गर्भपात होने का सबसे अधिक खतरा रहता है. ऐसे में इन महीनों में महिलाओं को अपना खास ध्यान रखना होता है. डॉक्टर का भी कहना होता है कि गर्भवती महिलाओं को भारी-भरकम सामान उठाने से बचना चाहिए. इसके साथ ही प्रेगनेंसी की शुरुआती दिनों में महिलाओं को अपने खान पान पर भी विशेष ध्यान रखना चाहिए. वरना मिसकैरेज होना का खतरा सबसे अधिक बना रहता है. चलिए जानते हैं प्रेगनेंसी में क्या नहीं खाना चाहिए..

प्रेगनेंसी में ना खाएं ये 5 चीजें

कच्चा अंडा

प्रेग्नेंसी में कच्चा अंडा नहीं खाना चाहिए. क्योंकि इसमें सैलमोनेला जैसे जीवाणु होते हैं जिससे मिसकैरेज का खतरा सबसे अधिक होता है. ऐसे में अगर कोई महिला प्रेग्नेंट है तो उन्हें कच्चा अंडा खाने से बचना चाहिए.

कच्चा स्प्राउट्स

गर्भवती महिलाओं को कच्चा स्प्राउट्स नहीं खाना चाहिए. स्‍प्राउट्स में लिस्‍टीरिया, साल्‍मेनेला और ई.कोलाई जैसे बैक्‍टीरिया मौजूद होते हैं जिससे मिसकैरेज होना का खतरा सबसे अधिक होता है.

अनानास

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को अनानास नहीं खाना चाहिए. क्योंकि इसमें मौजूद एंजाइम ब्रोमीलेन गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक हो सकते हैं. डॉक्टर की माने तो मिसकैरेज होने का चांस अधिक होता है.

पपीता

प्रेग्नेंट महिलाओं को पपीता खाने से परहेज करना चाहिए. क्योंकि इसमें लेटेक्स होता है जिसके कारण महिला के यूट्रस में संकुचन होना का रिस्क अधिक होता है. ऐसे में प्रेगनेंसी में पपीता खाने से मिसकैरेज भी हो सकता है.

शराब पीने से बचे

प्रेगनेंसी में महिलाओं को शराब पीने से बचना चाहिए. वरना मिसकैरेज हो सकता है. अगर कई महिला प्रेग्नेंट है तो उसे शराब का सेवन नहीं करना चाहिए. डॉक्टर की माने तो शराब के सेवन से गर्भ में पल रहे बच्चे के मस्तिष्क के विकास में बदलाव हो सकते हैं या फिर मिसकैरेज हो सकता है.