पीएमकेवीवाई के प्रशिक्षणार्थियों के प्रमाण पत्रों मे त्रुटि

पीएमकेवीवाई के प्रशिक्षणार्थियों के प्रमाण पत्रों मे त्रुटि

देवरिया (आशुतोष यादव): प्रधानमंत्री कौशल विकास केंद्र देवरिया/ सोनू घाट प्रशिक्षित कोविड फ्रंट लाइन वर्करों के प्रमाण पत्रों मे बड़े पैमाने पर त्रुटि पाया गया है। छात्रों ने बताया कि 1 माह का प्रशिक्षण सेंटर पर तथा 3 माह का आनजाब प्रशिक्षण जिला हॉस्पिटल में इन सब प्रशिक्षण एसेसमेंट में लगभग 5 बार आधार कार्ड का प्रमाण पत्र फोटोकॉपी से लगाए ओरिजिनल कॉपी तक जमा किया गया था बकायदा कंप्यूटर में फील्डिंग भी हुआ था बावजूद इसके बड़े पैमाने रत्नावली सिंह के प्रमाण पत्र में पति के जगह पुत्री, सुशील कुमार चौरसिया के प्रमाण पत्र में उनके पिता के नाम के बाद जाति कि जगह पर गांव का नाम जोड़ दिया गया एवं विवेक कुमार के नाम पर उनके पिता के नाम किसी अन्य का नाम तथा आधार कार्ड के जगह पर किसी अन्य का आधार कार्ड नंबर अंकित त्रुटि हुआ है छात्र एवं छात्राओं के पिता, पति, जातीय, गांव का नाम तथा आधार कार्ड के नामों में बड़ी मात्रा में त्रुटि पाया गया है। जबकि शिक्षित बेरोजगार प्रशिक्षणार्थी इस प्रमाण पत्र का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे कहते हैं देर होगा दुरुस्त होगा लेकिन हुआ ठीक इसके विपरीत देर भी हुआ दुरुस्त भी नहीं हुआ इसको लेकर प्रधानमंत्री कौशल केंद्र फ्रंटलाइन वर्कर के छात्रों में काफी नाराजगी व्यक्त की है। बोले केंद्र सरकार की गाइड लाइन के अनुसार कहा है 18 जनवरी 2021 को पीएम मोदी ने एक लाख कोविड फ्रंट लाइन वर्करों को प्रशिक्षित करने के लिए देश के 26 राज्यो के 111 कौशल केंद्रों स्किल डेवलपमेंट इंटरशिप उद्घाटन मंत्री की मौजूदगी में किया गया। प्रशिक्षण के बाद वह जिला अस्पताल, सीएचसी, पीएचसी पर तैनात हेल्थ केयर वर्करों की सहायता कर सकें। इस बाबत सेंटर इंचार्ज जयंत मणि त्रिपाठी ने बताया प्रमाण पत्रों में जो भी त्रुटि हुआ है उसे अति शीघ्र सुधार करवाने की बात कही है।