उतकृष्ट कार्य करने वाले महिलाओं को मिला सिल्ड मैडल एवं प्रशस्ति पत्र

● महिला सशक्तिकरण व महिला सम्मेलन में दिखा महिलाओं में खासा उत्साह, गांधी मैदान में

● महिलाओं की हजारों की संख्या में सांस्कृतिक कार्यक्रम,व दीप प्रज्वलित कर अतिथियों ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ

गरियाबंद: जिला मुख्यालय गरियाबंद में पहली बार प्रदेश स्तरीय महिला सशक्तिकरण विशाल महिला सम्मेलन कार्यक्रम का आयोजन गांधी मैदान में रविवार को रखा गया था इस कार्यक्रम में शामिल होने जिले सहित प्रदेश भर से बड़ी संख्या में महिलाये पहुची थी। कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसूईया उइके को आने का था लेकिन ठीक कार्यक्रम के कुछ ही क्षण पहले राज्यपाल आना अपरिहार्य कारणों से कैंसिल हो जाने के कारण कार्यक्रम में पहुची महिलाओं में थोड़ा उत्साह कम रहा लेकिन कार्यक्रम में स्थानीय कलाकारो के अलावा छत्तीसगढ़ी फ़िल्म गायिका सीमा कौशिक, मोना सेन, रजनी रजक द्वारा अपने मधुर आवाज से गायन से कार्यक्रम में उपस्थित लोगो को मंत्रमुग्ध कर दिया।


कार्यक्रम में शामिल होने पूरे जिले से पहुची महिलाओं को सम्बोधित करते हुए कार्यक्रम की विशिष्ठ अतिथि के रूप में मंच पर आसीन गरियाबंद पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर ने कहा कि आज महिला बहुत जागरूक हो चुकी है आज महिलाएं किसी भी कार्य मे पुरुष से कम नही है उन्होंने महिलाओं से कहा कि आपके उपर किसी तरह अत्याचार होता है तो वे बेहिचक वे हमारे पास आये या अपने निकटतम थाने में अपराध दर्ज कराने की बात कही पुलिस अधीक्षक ने कहा कि महिला अपराध पर त्वरित कार्यवाही करने की बात कही उन्होंने आगे कहा कि जिले की बालिकाओं व महिलाओं को आत्मरक्षा करने का प्रशिक्षण दिलवाने की भी बात कही है।


कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही कौन बनेगा करोड़पति व पदमा श्री से सम्मानित फुलबासन यादव ने कहा कि गरियाबंद जिले में जो आज महिला सम्मेलन व सशक्तिकरण का कार्यक्रम हो रहा है वह जिला स्तरीय नही है यह कार्यक्रम राज्य स्तरीय कार्यक्रम है जहां दूर दूर से महिलाये आज यहा आपकी हौसला बढ़ाने आपके नगर में पहुची है यह जिले के लिए अनोखा कार्यक्रम है यह कार्यक्रम का मुख्य रूप सेग्रामीण महिलाओं को आगे लाने उद्देश्य से किया गया है और निश्चित ही इस कार्यक्रम का लाभ जिले की महिलाओं को मिलेगा। वही कार्यक्रम को रायपुर से आये अन्य अतिथियों द्वारा सम्बोधित किया।


कार्यक्रम के दौरान जिले में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को प्रतीक चिन्ह भेटकर सम्मान किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में यादव नेत्री जिला पंचायत सदस्य वन सभापति धनमती यादव एवं जिला पंचायत सदस्य लोकेश्वरी नेताम व उनकी महिला टीम की काफी सराहनीय योगदान रहा। कार्यक्रम में खास बात यह रही कि इतनी बड़े कार्यक्रम में पूरा साड़ियों से बनाया गया टेंट रही गरियाबंद महिला संगठन की महिलाएं इस कार्यक्रम को लेकर पिछले दो माह से मेहनत कर रहे थे एवं महिला हजारों की संख्या में उपस्थिति दे कर कार्यक्रम को सफल बनाया ।

छत्तीसगढ़ स्टेट हेड उमेश यादव की रिपोर्ट Yadu News Nation

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!