अपनी सुरक्षा की परवाह किये बिना चल पड़े चित्रकूट विधायक

अपनी सुरक्षा की परवाह किये बिना चल पड़े चित्रकूट विधायक

अपने विधानसभा क्षेत्र की अंतिम व्यक्ति तक पहुँचना मेरा परम कर्तव्य चाहे सुरक्षा हो या ना हो। यहाँ तक पैदल आने का कारण रोड तथा पुल पुलिया की स्थति जानना चाहता था। मैंने अधिकारियों को इस मार्ग के सर्वे के लिए भी निर्देश दिए हैं राजमन बेंजाम, चित्रकूट विधायक

रायपुर: सुदूर नक्सली प्रभावित इलाकों तक पहुंचने के लिए जंगलों पहाड़ों और नदी नालों को पार कर 15 किलोमीटर पैदल यात्रा करते हुए बस्तानार के अंतिम गांव वहांपुर और करनगली पहुंचे चित्रकूट विधायक श्री राजमन बेंजाम।

वाक्य सुदूर अंचल क्षेत्रों में विकास कार्यों का लोकार्पण हेतु पंचायत भवन का भूमि पूजन तथा भौगोलिक रूप से पठारी क्षेत्र एवं जंगलों से गिरा बस्तानार विकासखंड जहां गांव तथा आबादी भी दूर-दूर बसी हुई है ऐसे क्षेत्रों में सरकार की योजनाओं तथा मूलभूत सुविधाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना किसी चुनौती से कम नहीं।

ऐसे में चित्रकूट विधायक राजमन बेंजाम क्षेत्र के विकास हेतु संकल्पित हैं और लगातार क्षेत्र का दौरा कर लोगों की समस्या से रूबरू हो रहे हैं तथा उनके समाधान का रास्ता भी निकाल रहे हैं।

इस अवसर पर विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम के साथ बुधराम कवासी जनपद सदस्य, सोमड मंडावी सरपंच संघ अध्यक्ष, लक्षमण बेको सरपंच वुहानपुर, शंकर बेको सरपंच करनंगली, लखमो कवासी सरपंच बोदेनार, फूलमती मंडावी सरपंच कालागुडा, बली गावड़े उपसरपंच तुरांगुर,

मनकू मुच्छाकी उप सरपंच, चंद्र शेखर ठाकुर, देवेन्द्र पोडियाम, लक्ष्मण कर्मा, दुल्लो मुचाकी, नन्नू पोयाम, रविन्द्र मरकाम, मंदर गोयल,प्रदीप बेको, मेहतर नाग, सुरेन्द्र बेको, जितेंद्र चौहान, सुदरु पोयामा आदि उपस्थित रहे।

छत्तीसगढ़ स्टेस्ट ब्योरो चीफ उमेश यादव की रिपोर्ट Yadu News Nation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *