कोलकाता की ये पुरानी दुकान थी नेताजी की फेवरेट फास्ट फूड शॉप

आज के दिन फ्री में देती है चाय-पकौड़े

कोलकाता: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125वीं जयंती है। नेताजी का जन्म 23 जनवरी 1897 को उड़ीसा के कटक में हुआ था। इस दिन को भारत में आज ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाया जा रहा है। तो चलिए आज के दिन हम आपको नेताजी एक पसंदीदा फास्ट फूड शॉप के बारे में बताते हैं, जो कोलकाता में है और 103 साल पुरानी है। उत्तरी कोलकाता में इस दुकान का नाम ”लक्ष्मी नारायण शॉ एंड संस” है। जिसे लोग ‘नेताजी की दुकान’ के नाम से भी जानते हैं। उत्तरी कोलकाता की ये दुकान एक स्नैक्स शॉप है। इस दुकान में नेताजी उस वक्त बार-बार आते थे, जब वो उत्तरी कोलकाता के स्कॉटिश चर्च कॉलेज में पढ़ाई कर रहे थे। इसलिए आज हर कोई इस दुकान को ‘नेताजी की दुकान’ के रूप में जानता है। आजादी के बाद से इस शॉप में नेताजी के जन्मदिन पर फ्रीम में लोगों को पकौड़े और चाय सर्व किए जाते हैं और आज (23 जनवरी 2021) भी ऐसा ही किया जा रहा है।

खेड़ू शॉ ने साल 1918 में लक्ष्मी नारायण शॉ एंड संस दुकान की स्थापना की थी। भारत उस वक्त ब्रिटिश शासन के अधीन था और हमारे स्वतंत्रता सेनानी एक स्वतंत्र राष्ट्र के संघर्ष में लगे हुए थे। इस दुकान में उस वक्त पकौड़ियां बनाई जाती हैं। कोलकाता स्वतंत्रता सेनानियों, बुद्धिजीवियों और क्रांतिकारियों का केंद्र रहा है। यही वजह है कि उस वक्त स्नैक्स और चाय पीने के बहाने लोग इसी दुकान में आते थे। इस दुकान में आज भी वैसी ही भीड़ लगती है।

इंडिया टूडे में छपी रिपोर्ट के मुताबिक लक्ष्मी नारायण शॉ एंड संस के मालिक केशो कुमार गुप्ता (शॉ) ने बताया कि कैसे उनके दादा नेताजी से मिले, दोनों के बीच दोस्ती हुई और नेताजी इस दुकान में आने लगे। उन्होंने ही बताया कि ये दुकान 103 साल पुरानी है। केशो कुमार गुप्ता ने कहा, “मेरे दादाजी को स्वतंत्रता सेनानियों टिफिन देते थे, जब उनकी बैठकें होती थी। वह उन्हें अखबार के रैपर में पके हुए चावल, गर्म पकौड़े, हरी मिर्च और चाय सर्व करते थे। उस वक्त मिट्टी के प्याले में चाल लोग ज्यादा पीया करते थे।”

उन्होंने बताया, “इस तरह से मेरे दादाजी ने एक बार नेताजी से मुलाकात की और उन्हें वही चाय और पकौड़े दिए थे। जब नेताजी स्कॉटिश चर्च में पढ़ रहे थे, तो वे पकौड़े और चाय के लिए हमारी दुकान पर अक्सर आते थे। उसी दौरान मेरे दादाजी ने उनके साथ एक गहरी दोस्ती बनाई।”

केशो कुमार गुप्ता ने बताया कि हमने पहली बार 1942 में 23 जनवरी को नेताजी के जन्मदिन पर सभी लोगों को चाय और पकौड़े मुफ्त में खिलाए थे और उन्हे बताया था कि यह स्वतंत्रता सेनानी नेताजी के जन्मदिन के अवसर के लिए है।

केशो कुमार गुप्ता ने कहा, 1948 की 23 जनवरी को जब हमने आजादी हासिल की, तब हमने नेताजी सुभाष चंद्र बोस का अपनी शॉप के बाहर बोर्ड लगाया था और अपनी दुकानों में बने पकौड़े और चाय सभी को बांटे थे। उन्होंने कहा कि आज भी हम 23 जनवरी 2021 को नेताजी के जन्मदिन पर सुबह आठ बजे से पकौड़े और चाय फ्री में सर्व कर रहे हैं।

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!