जेपी नड्डा ने राज्यसभा सांसद के पद से दिया इस्तीफा

जेपी नड्डा ने राज्यसभा सांसद के पद से दिया इस्तीफा

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सोमवार को हिमाचल प्रदेश से राज्यसभा के सदस्य के तौर पर इस्तीफा दे दिया. अधिकारियों ने बताया कि गुजरात से राज्यसभा सदस्य चुने जाने के बाद नड्डा ने हिमाचल प्रदेश की अपनी सीट से इस्तीफा दे दिया. संसद के एक बुलेटिन में कहा गया, उनका इस्तीफा राज्यसभा के सभापति ने 4 मार्च, 2024 से स्वीकार कर लिया है.

नड्डा और बीजेपी के तीन उम्मीदवार गुजरात से राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के तीन अन्य उम्मीदवारों को 20 फरवरी को गुजरात से राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित चुना गया. राज्य में राज्यसभा की चार सीटें खाली थीं. जिसमें बीजेपी के उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया था, जबकि विरोध में किसी अन्य उम्मीदवार ने नामांकन पत्र दाखिल नहीं किया था, ऐसे में निर्वाचन अधिकारी रीता मेहता ने नड्डा सहित सभी चार भाजपा उम्मीदवारों को संसद के उच्च सदन के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया था. नड्डा के अलावा, राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित तीन अन्य उम्मीदवार – हीरा कारोबारी गोविंदभाई ढोलकिया, भाजपा नेता जसवंत सिंह परमार और मयंक नायक हैं. रिक्त होने वाली चार सीटों में से दो-दो पर भाजपा और कांग्रेस का कब्जा था. 2018 में कांग्रेस के दो उम्मीदवार अमी याग्निक और नारण राठवा गुजरात से राज्यसभा में पहुंचे. भाजपा के केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला और मनसुख मंडाविया ने राज्य से 2018 के राज्यसभा चुनाव में जीत हासिल की थी. इन चारों सांसदों का कार्यकाल जल्द ही खत्म होने जा रहा है.

हिमाचल सीट से अप्रैल में खत्म हो रहा था नड्डा का कार्यकाल

हिमाचल प्रदेश की राज्सभा सीट से जेपी नड्डा का कार्यकाल अप्रैल में समाप्त हो रहा था. नड्डा उन 57 राज्यसभा सांसदों में शामिल हैं, जिनका कार्यकाल कुछ महीनों में खत्म होने वाला है. नड्डा हाल ही में सपन्न हुए राज्यसभा चुनाव में गुजरात से राज्यसभा सांसद के रूप में निर्विरोध चुने गए थे. राज्यसभा के लिए गुजरात से बीजेपी के 4 सांसद चुने गए हैं.