सच्चा हिंदू कभी नहीं कर सकता इस्लाम का विरोध… शहबाज ने उठाए सवाल, पीएम मोदी के वीडियो से पाकिस्तानियों ने दिया जवाब

इस्लामाबाद : पाकिस्तान की जनता महंगाई और भूख से परेशान है। यह परेशानी धीरे-धीरे पाक पीएम शहबाज शरीफ के खिलाफ गुस्से में बदल रही है। अवाम मुल्क के हालात से इतना त्रस्त हो चुकी है कि अपनी सरकारों के खिलाफ गुस्सा जाहिर करने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुराने वीडियो शेयर कर रही है। पाकिस्तान में पीएम मोदी का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है जिसे शहबाज शरीफ के हालिया बयान का जवाब बताया जा रहा है। पाक पीएम शहबाज ने कहा था कि ‘अल्पसंख्यकों को भारत में सताया जा रहा है’। उन्होंने कहा, ‘इसे रोका जाना चाहिए ताकि दुनिया में यह संदेश जाए कि भारत वार्ता के लिए तैयार है।’

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने मंगलवार को कहा कि भारत के साथ वार्ता तभी संभव है जब वह 5 अगस्त 2019 की अपनी ‘अवैध कार्रवाई’ को वापस ले। भारत के इस कदम की वापसी के बिना, वार्ता संभव नहीं है। पाक पीएमओ इस बयान से एक दिन पहले शहबाज शरीफ ने पीएम मोदी से वार्ता का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा था कि संयुक्त अरब अमीरात दोनों देशों को बातचीत के लिए टेबल पर लाने में अहम भूमिका निभा सकता है। यूएई के अल अरबिया चैनल के साथ इंटरव्यू में शहबाज ने यह बयान दिया था।

भारत में अल्पसंख्यकों के लिए ‘चिंता प्रकट’ करने वाले शहबाज के बयान से भारतीय तो दूर खुद पाकिस्तानी भी सहमत नहीं हैं। एक पाकिस्तानी ट्विटर यूजर ने पीएम मोदी का एक पुराना वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ‘अगली बार नरेंद्र मोदी को ‘एंटी-इस्लामिक’ बोलने से पहले दो बार सोचें।’ वीडियो में मोदी एक भारतीय न्यूज चैनल के साथ इंटरव्यू में इस्लाम पर अपने विचार बताते नजर आ रहे हैं। यह वीडियो तब का है जब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे।

वीडियो में नरेंद्र मोदी कहते हैं, ‘मैं इस्लामिक विचारधारा के खिलाफ नहीं हूं… बिल्कुल नहीं। अगर कोई हिंदू इस्लाम के खिलाफ है तो वह हिंदू नहीं है। क्योंकि हिंदू ने सिखाया है कि सभी धर्म बराबर हैं।’ इससे पहले पीएम मोदी का एक और वीडियो पाकिस्तानियों ने शेयर किया था। इसमें वह कहते नजर आ रहे थे कि ‘हमने पाकिस्तान को कटोरा लेकर पूरी दुनिया में भटकने के लिए मजबूर कर दिया’। यह वीडियो पीटीआई के एक नेता ने शेयर किया था लेकिन जब पता चला कि वीडियो 2019 का है, जब पाकिस्तान में इमरान खान की सरकार थी, तो वह खुद ट्रोल हो गए।

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in
error: Content is protected !!