किम जोंग ने युद्ध की तैयारी का किया आह्वान, उत्तर कोरिया के शीर्ष जनरल को किया बर्खास्त

North Korea Kim Jong Un : उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के एक फैसले ने फिर लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया है. किम जोंग उन ने शीर्ष जनरल को बर्खास्त कर दिया है. साथ ही आह्वान किया है कि युद्ध की तैयारी करो. युद्ध की संभावना के लिए और अधिक तैयारी करने, हथियारों के उत्पादन को बढ़ावा देने और सैन्य अभ्यास के विस्तार का उत्तर कोरिया के किम जोंग उन ने आह्वान किया.

केंद्रीय सैन्य आयोग की एक बैठक में यह टिप्पणी

मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार, कहा गया है कि किम ने केंद्रीय सैन्य आयोग की एक बैठक में यह टिप्पणी की, जिसमें उत्तर कोरिया के दुश्मनों को रोकने के लिए जवाबी कदमों की योजना पर चर्चा की गई है. हालांकि, इसमें यह साफ नहीं किया गया है उनका दुश्मन कौन है? केसीएनए ने विस्तृत जानकारी दिए बिना बताया कि सेना के शीर्ष जनरल, जनरल स्टाफ के प्रमुख पाक सु इल की जगह लेने के लिए जनरल री योंग गिल को नामित किया गया था.

हथियार उत्पादन क्षमता के विस्तार का भी लक्ष्य

बता दें कि शुरुआत से यह स्पष्ट नहीं था कि री रक्षा मंत्री के रूप में अपनी भूमिका बरकरार रखेंगे या नहीं. रिपोर्ट में विवरण दिए बिना कहा गया है कि किम ने हथियार उत्पादन क्षमता के विस्तार का भी लक्ष्य रखा है. पिछले सप्ताह उन्होंने हथियार कारखानों का दौरा किया जहां उन्होंने अधिक मिसाइल इंजन, तोपखाने और अन्य हथियार बनाने का आह्वान किया है. केसीएनए द्वारा जारी की गई तस्वीरों में किम एक मानचित्र पर सियोल और दक्षिण कोरियाई राजधानी के आसपास के इलाकों की ओर इशारा करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

यूक्रेन में युद्ध के लिए रूस को हथियार मुहैया कराने का आरोप

इस बीच, संयुक्त राज्य अमेरिका ने उत्तर कोरिया पर यूक्रेन में युद्ध के लिए रूस को हथियार मुहैया कराने का आरोप लगाया है, जिसमें तोपखाने के गोले, रॉकेट और मिसाइलें शामिल हैं. हालांकि, रूस और उत्तर कोरिया ने उन दावों का खंडन किया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि किम ने अपनी सेना को युद्ध के लिए तैयार रखने के लिए देश के नवीनतम हथियारों और उपकरणों के साथ अभ्यास करने का भी आह्वान किया.

75वीं वर्षगांठ पर एक मिलिशिया परेड आयोजित करने की तैयार

जानकारी हो कि उत्तर कोरिया गणतंत्र के स्थापना दिवस की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर 9 सितंबर को एक मिलिशिया परेड आयोजित करने के लिए तैयार है. उत्तर कोरिया के पास कई अर्धसैनिक समूह हैं जिनका उपयोग वह अपने सैन्य बलों को मजबूत करने के लिए करता है. अमेरिका और दक्षिण कोरिया 21 से 24 अगस्त के बीच सैन्य अभ्यास करने वाले हैं, जिसे उत्तर कोरिया अपनी सुरक्षा के लिए खतरे के रूप में देखता है.

2011 से उत्तर कोरिया का सर्वोच्च नेता

किम जोंग उन (Kim Jong un) उत्तर कोरियाई राजनेता हैं, जिन्हें 2011 से उत्तर कोरिया (North Korea) का सर्वोच्च नेता माना जाता है. इनका जन्म 8 जनवरी 1982 में हुआ था, वह उत्तर कोरिया सर्वोच्च नेता किम II-सुंग (Kim II- sung) के पोते हैं, जिन्होंने 1948 में अपनी राजशाही की स्थापना की. वे किम जोंग-इल (Kim Jong-il) और को योंग हुई ( Ko Yong Hui) की दूसरी संतान हैं. उनका एक बड़ा भाई, किम जोंग-चुल और किम यो-जोंग नाम की एक छोटी बहन भी है.

बड़े भाई किम की मृत्यु के बाद बने उत्तराधिकारी

कुछ मीडिया एजेंसी की मानें तो दिसंबर 2011 में बड़े भाई किम की मृत्यु के बाद, किम जोंग-उन को राज्य टेलीविजन द्वारा ‘महान उत्तराधिकारी’ (Great Successor) के रूप में घोषित किया गया था. उन्होंने अपने शासक किम परिवार के समान व्यक्तित्व के पथ का पालन किया. 2012 से, किम ने वर्कर्स पार्टी, कोरिया के महासचिव का सर्वोच्च पद संभाला है. इसके साथ ही 28 सितंबर 2010 को बिना किसी पूर्व सैन्य रिकॉर्ड के उन्हें केंद्रीय सैन्य आयोग का उपाध्यक्ष बनाया गया. वह राज्य मामलों के आयोग के अध्यक्ष भी हैं. जुलाई 2012 में, किम को कोरियाई पीपुल्स आर्मी में मार्शल के सर्वोच्च पद पर पदोन्नत किया गया था.

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in
error: Content is protected !!