रूस ने सबमरीन पर लगाए समुद्र के सबसे ताकतवर हथियार, यूक्रेन में आएगी रेडियोएक्टिव सुनामी? खतरे में US-ब्रिटेन

मॉस्को : रूस ने Poseidon परमाणु सक्षम सुपर टॉरपीडो का पहला सेट तैयार कर लिया है। रूसी न्यूज एजेंसी TASS ने सोमवार को एक अज्ञात रक्षा स्रोत का हवाला देते हुए बताया कि इसे बेलगोरोड परमाणु पनडुब्बी पर तैनात करने के लिए विकसित किया जा रहा है। नए साल की पूर्व संध्या पर अपने भाषण में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पश्चिमी देशों को रूस का ‘सच्चे दुश्मन’ बताया था। पुतिन लगातार संकेत दे रहे हैं कि रूस पीछे नहीं हटेगा। उन्होंने अटलांटिक में हाइपरसोनिक मिसाइलें भेजी हैं और युद्ध को आगे बढ़ाने के लिए अपने टॉप जनरल को नियुक्त किया है।

अमेरिकी और रूसी अधिकारियों दोनों ने Poseidon को प्रतिशोधी हथियार की एक नई कैटेगरी के रूप में वर्णित किया है। ये तटीय शहरों को तबाह करने के लिए रेडियोएक्टिव सुनामी ट्रिगर करने में सक्षम होती हैं। रूस की सरकारी न्यूज एजेंसी TASS ने सूत्र के हवाले से कहा, ‘पोसिडॉन्स का पहला सेट तैयार हो गया है और आने वाले समय में इसे बेलगोरोड सबमरीन पर लगाया जाएगा।’ रिपोर्ट के अनुसार टॉरपीडो को ऊर्जा देने के लिए न्यूक्लियर रिएक्टर समेत Poseidon के मुख्य हिस्सों को सफलतापूर्वक तैयार कर लिया गया है।’

न्यूज एजेंसी ने दावा किया है कि बेलगोरोड न्यूक्लियर सबमरीन के चालक दल ने भी टॉरपीडो के मॉडल के साथ परीक्षण पूरा कर लिया है। रक्षा मंत्रालय ने इस रिपोर्ट पर फिलहाल कोई टिप्पणी नहीं की है। पुतिन ने 2018 में Poseidon के बारे में पहली बार घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि यह नए प्रकार का रणनीतिक परमाणु हथियार है जिसके पास अपना खुद का परमाणु ऊर्जा का स्रोत होगा।

सार्वजनिक रूप से Poseidon के बारे में कुछ पुष्ट जानकारियां उपलब्ध हैं। यह एक टॉरपीडो और एक ड्रोन के बीच एक क्रॉस है जिसे परमाणु पनडुब्बी से लॉन्च किया जा सकता है। रूस के रक्षा मंत्रालय ने 24-मीटर Poseidon के कुछ वीडियो जारी किए हैं, जिसे नाटो Kanyon के नाम से जानता है। Poseidon K-329 Belgorod पर लगाया जाएगा, जो एक खास तरह की न्यूक्लियर सबमरीन है जिसे सेवमाश शिपयार्ड ने बनाया है।

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in
error: Content is protected !!