पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में आतंकवादी हमले में 11 मजदूरों की मौत, पंजाब में सड़क हादसे में 18 की गयी जान

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के उत्तरी वजीरिस्तान जिले में आतंकवादी हमले में कम से कम 11 मजदूरों की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए. जबकि पंजाब प्रांत में सड़क हादसे में 18 लोगों की मौत हो गयी.

आतंकवादियों ने 16 मजदूरों को ले जा रहे एक वाहन को विस्फोट कर उड़ाया

‘जियो न्यूज’ ने उपायुक्त रेहान गुल खट्टक के हवाले से बताया कि आतंकियों ने शनिवार को शावाल तहसील के गुल मीर कोट के पास 16 मजदूरों को ले जा रहे एक वाहन को विस्फोट करके उड़ा दिया. खट्टक ने बताया कि एक निर्माणाधीन सरकारी इमारत में काम करने वाले कम से कम 11 मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हो गए और तीन लापता हैं. अधिकारियों ने बताया कि ये मजदूर माकिन और वाना तहसील से ताल्लुक रखते थे. घायलों को पास के अस्पताल में ले जाया गया है. उन्होंने बताया कि लापता श्रमिकों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है. इससे पहले शनिवार को अपर साउथ वजीरिस्तान के माकिन तहसील में असामाजिक तत्वों ने बम निरोधक दस्ते के वाहन पर रॉकेट दागा था जिसमें चार कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में भीषण सड़क दुर्घटना में 18 लोगों की मौत

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक राजमार्ग पर रविवार सुबह भीषण सड़क दुर्घटना में महिलाओं और बच्चों समेत कम से कम 18 लोगों की मौत हो गयी तथा 16 अन्य घायल हो गए. पुलिस ने बताया कि कराची से 40 यात्रियों को लेकर इस्लामाबाद जा रही बस सुबह करीब साढ़े चार बजे फैसलाबाद राजमार्ग (मोटरवे) के पिंडी भट्टियां क्षेत्र में एक वैन से टकरा गई.

बस ने ईंधन से भी टैंकर पर मारी टक्कर, देखते-ही-देखते लगी आग

मोटरवे पुलिस के महानिरीक्षक (आईजी) सुल्तान ख्वाजा ने कहा, मोटरवे के पिंडी भट्टियां क्षेत्र में बस ने एक खड़ी वैन में टक्कर मार दी जो ईंधन टैंक ले जा ही थी। बस ने उसे पीछे से टक्कर मारी और दोनों वाहनों में फौरन आग लग गयी जिससे कम से कम 18 यात्रियों की मौत हो गयी. उन्होंने बताया कि 16 अन्य घायलों को नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

मृतकों की संख्या बढ़ने की संभावना

आईजी ने बताया कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कुछ घायलों की हालत गंभीर बतायी जा रही है. उन्होंने बताया कि बस से कूदकर बाहर निकलने वाले यात्री बच गए हैं. अन्य लोगों को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला क्योंकि दोनों वाहन आग की चपेट में आ गए थे. दोनों वाहनों के चालकों की भी मौत हो गयी है.

हादसे कैसे हुई इसके बारे में जांच जारी

आईजी ख्वाजा ने कहा कि अभी पता नहीं चला है कि ‘‘क्या बस चालक को नींद आ गयी थी या तेज गति के कारण यह हादसा हुआ. उन्होंने बताया कि अगर वैन में ईंधन टैंक नहीं होता तो दोनों वाहनों में आग नहीं लगती. उन्होंने बताया कि मृतकों की शिनाख्त डीएनए जांच के जरिए की जाएगी जिसके बाद शव उनके परिवार को सौंपे जाएंगे. पंजाब के कार्यवाहक मुख्यमंत्री मोहसिन नकवी ने हादसे में लोगों की मौत पर दुख जताया है और संबंधित प्राधिकारियों को घायलों को बेहतर उपचार मुहैया कराने का निर्देश दिया है.

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in
error: Content is protected !!