कबाड़ है अमेरिका का यूक्रेन को दिया पैट्रियट मिसाइल सिस्टम, कर देंगे तबाह, पुतिन ने दी खुली चेतावनी

कीव/मॉस्को : रूसी राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन ने कहा है कि अमेरिका का यूक्रेन को पैट्रियट मिसाइल सप्लाई करना उसे अपने सैन्य लक्ष्यों को हासिल करने से नहीं रोक सकता। यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की बुधवार को अमेरिका पहुंचे थे। फरवरी में युद्ध की शुरुआत के बाद से यह उनका पहला विदेशी दौरा था। इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस के खिलाफ यूक्रेन को पैट्रियट मिसाइल डिफेंस सिस्टम देने का वादा किया था। जंग में इस नए हथियार के शामिल होने से रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को कोई डर नहीं है। उन्होंने पैट्रियट को पुराना बताते हुए खारिज कर दिया।

पुतिन ने कहा कि रूस का मिसाइल सिस्टम इसे मार गिराने में सक्षम होगा। उन्होंने गुरुवार को कहा, ‘पैट्रियट एयर डिफेंस काफी पुराना है। रूस पैट्रियट सिस्टम को गिरा देगा।’ रूसी राष्ट्रपति ने कहा, ‘सभी सशस्त्र संघर्ष बातचीत के माध्यम से खत्म होते हैं। इसका मतलब है कि यूक्रेन आखिरकार शांति के बदले क्षेत्र को छोड़ने के लिए मजबूर हो जाएगा।’ वह बोले, ‘जितनी जल्दी कीव यह समझ जाए, उतना अच्छा है।’

पत्रकारों से बातचीत में पुतिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ जेलेंस्की की बैठक से इस तरह के कोई संकेत नहीं मिले कि यूक्रेन वार्ता के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि अमेरिका रूस के साथ एक छद्म युद्ध लड़ रहा है और ‘आखिरी यूक्रेनी’ तक इसे जारी रखने के लिए दृढ़ है। अपने अमेरिकी दौरे में वाइट हाउस में बाइडन के साथ बैठक के बाद जेलेंस्की ने अमेरिकी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित किया।

जेलेंस्की बोले कि उनका देश कभी भी रूसी आक्रमण के आगे नहीं झुकेगा और वाइट हाउस का लगातार समर्थन ही ‘जीत की कुंजी’ है। अमेरिकी सांसदों ने जेलेंस्की के लिए खड़े होकर तालियां बजाईं। यूक्रेनी राष्ट्रपति ने कहा कि युद्ध के नतीजे भविष्य की वैश्विक व्यवस्था की दिशा तय करेंगे। अमेरिका में उन्होंने यह भविष्यवाणी की कि 2023 यूक्रेन युद्ध में एक ‘टर्निंग पॉइंट’ साबित होगा। पैट्रियट लंबी दूरी का एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम है जिसे 1982 में पहली बार अमेरिकी सेना में शामिल किया गया था।

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in
error: Content is protected !!