उपचुनाव में मतदान के दौरान उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में हिंसा

Assembly By Election: उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में हिंसा की छिटपुट घटनाओं के बीच बुधवार को सात राज्यों में 13 सीट पर विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान हुआ. मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और यह शाम छह बजे तक जारी रहा. लोकसभा चुनाव के बाद, पहली बार हो रही चुनावी प्रक्रिया में कई दिग्गज और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की पत्नी कमलेश ठाकुर सहित पहली बार चुनाव लड़ रहे कुछ और उम्मीदवार भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. मौजूदा सदस्यों की मृत्यु हो जाने या उनके इस्तीफे के कारण रिक्तियां होने के चलते ये उपचुनाव हो रहे हैं. उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल को छोड़कर बाकी राज्यों में मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया. अब 13 जुलाई को चुनाव के नतीजे आएंगे.

कहां कितनी हुई वोटिंग

  • बिहार के रूपौली में 51.14 फीसदी मतदान हुआ
  • हिमाचल प्रदेश के नालागढ़-51 में 75.22 फीसदी
  • हिमाचल प्रदेश के देहरा-10 में 63.89 फीसदी
  • हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर-38 में 65.78 फीसदी
  • मध्य प्रदेश के अमरवाड़ा में 72.89 फीसदी
  • पंजाब के जालंधर में 51.30 फीसदी
  • तमिलनाडु के विक्रावांडी में 77.73 फीसदी
  • उत्तराखंड के बद्रीनाथ-4 में 47.68 फीसदी
  • उत्तराखंड के मंगलोर-33 में 67.28 फीसदी
  • पश्चिम बंगाल रणघाट में 65.37 फीसदी
  • पश्चिम बंगाल के बगदा-94 में 65.15 फीसदी
  • पश्चिम बंगाल के रायगंज- 35 में 67.12 फीसदी
  • पश्चिम बंगाल के मानिक टोला में 51.39 फीसदी

उत्तराखंड में वोटिंग के दौरान झड़प
उपचुनाव के दौरान कई जगहों पर झड़प भी देखने को मिली. उत्तराखंड के मंगलौर विधानसभा क्षेत्र में एक मतदान केंद्र पर विभिन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प में चार लोग घायल हो गए. झड़को को लेकर कांग्रेस उम्मीदवार और पूर्व विधायक काजी निजामुद्दीन ने बीजेपी पर नफरत के बीज बोकर लोकतंत्र का गला घोंटने का आरोप लगाया. सूत्रों के अनुसार मतदान केंद्र पर हिंसा उस समय भड़की जब कुछ लोग बूथ में घुस गए और लोगों को वोट डालने से रोकने लगे. पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता यशपाल आर्य और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से कांग्रेस सांसद इमरान मसूद समेत ई नेताओं ने घटना की निंदा की है. मंगलौर में बसपा के विधायक सरवत करीम अंसारी के निधन के बाद इस सीट पर उपचुनाव हो रहा है. वहीं, बद्रीनाथ में कांग्रेस विधायक राजेंद्र भंडारी के इस्तीफे के बाद यह सीट खाली हो गई थी. बता दें, बद्रीनाथ बीजेपी में शामिल हो गये हैं.

पश्चिम बंगाल में मतदान के दौरान हिंसा
इधर, पश्चिम बंगाल के बगदाह और रानाघाट दक्षिण में भी चुनाव के दौरान हिंसा की छिटपुट घटनाएं हुईं. बीजेपी ने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर उसके बूथ एजेंटों पर हमला करने और उम्मीदवारों को कुछ मतदान केंद्रों पर जाने से रोकने का आरोप लगाया है. बीजेपी ने घटनाओं को लेकर निर्वाचन आयोग में शिकायत भी दर्ज करायी है. भाषा इनपुट से साभार
Also Read: BMW Hit And Run Case: मिहिर शाह को 16 जुलाई तक पुलिस कस्टडी, आरोपी के मददगारों की तलाश में पुलिस

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in