रूस-यूक्रेन युद्ध पर पीएम मोदी ने व्लादिमीर पुतिन को दी सलाह

PM Modi Russia Visit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ शिखरवार्ता में यूक्रेन संघर्ष पर चर्चा की. पीएम मोदी ने रूस-यूक्रेन संघर्ष पर पुतिन को सलाह भी दी. उन्होंने कहा, यूक्रेन संघर्ष का समाधान युद्धक्षेत्र में संभव नहीं है और बम, बंदूकों तथा गोलियों के बीच शांति वार्ता सफल नहीं होती.

यूक्रेन में बच्चों के अस्पताल में हमले को पीएम मोदी ने पीड़ादाय बताया

पुतिन के साथ शिखरवार्ता से पहले पीएम मोदी ने यूक्रेन में बच्चों के एक अस्पताल पर बम हमले का जिक्र करते हुए कहा कि बेगुनाह बच्चों की मौत हृदय-विदारक और बहुत पीड़ादायी है. प्रधानमंत्री मोदी ने वैश्विक समुदाय को आश्वासन दिया कि भारत शांति के पक्ष में है और संघर्ष का समाधान बातचीत से निकाला जाना चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने यूक्रेन में बच्चों के एक अस्पताल पर बम हमले का परोक्ष रूप से उल्लेख करते हुए कहा, अगर लोगों की जान जाती है तो मानवता में विश्वास करने वाला हर व्यक्ति दुखी होता है. उस पर भी यदि बेगुनाह बच्चों की हत्या हो, निर्दोष बच्चे मरें तो यह हृदय-विदारक और बहुत पीड़ादायी होता है.

शांति बहाली के लिए भारत हरसंभव सहयोग के लिए तैयार : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, नई पीढ़ी के उज्ज्वल भविष्य के लिए शांति अत्यंत आवश्यक है. युद्धक्षेत्र में समाधान संभव नहीं है. बम, बंदूकों और गोलियों के बीच शांति वार्ता सफल नहीं होती. उन्होंने आगे कहा, शांति बहाली के लिए भारत हरसंभव तरीकों से सहयोग को तैयार है.

जेलेंस्की ने मोदी के पुतिन से गले मिलने पर आपत्ति जताई

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने मोदी के पुतिन से गले मिलने पर आपत्ति जताई. जेलेंस्की ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, यूक्रेन में बच्चों के सबसे बड़े अस्पताल पर रूसी मिसाइल से हमला हुआ, जिसमें कैंसर के मरीज बच्चों पर निशाना साधा गया। मलबे के नीचे कई लोग दब गए. उन्होंने कहा, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के नेता को मॉस्को में ऐसे दिन दुनिया के सबसे बड़े खूनी अपराधी को गले लगाते हुए देखना बड़ा निराशाजनक और शांति प्रयासों के लिए विनाशकारी झटका है.

रूस की मदद से भारत में खाद्य पदार्थों, ईंधन और उर्वरकों की कमी नहीं हुई

प्रधानमंत्री ने ऊर्जा क्षेत्र में रूस द्वारा भारत की मदद का भी उल्लेख किया. उन्होंने कहा कि जब दुनिया खाद्य पदार्थों, ईंधन और उर्वरक की कमी का सामना कर रही थी, तब हमने अपने किसानों के समक्ष कोई समस्या नहीं आने दी और रूस के साथ हमारी दोस्ती ने इसमें भूमिका निभाई. मोदी ने कहा कि आपके सहयोग से हम पेट्रोल और डीजल की उपलब्धता के मामले में भारत के आम नागरिकों को कठिनाइयों से बचा सके. मोदी ने कहा, हम चाहते हैं कि रूस के साथ हमारा सहयोग और बढ़े.

प्रधानमंत्री मोदी ने पुतिन के साथ वार्ता में आतंकवाद का मुद्दा उठाया

रूसी राष्ट्रपति के साथ अपनी बातचीत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद का भी मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा, भारत करीब 40 साल से आतंकवाद की चुनौती का सामना कर रहा है. मैं आतंकवाद के सभी स्वरूपों की निंदा करता हूं.

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in