ओरबान ने की सी जिंगपिंग से मुलाकात , पश्चिम की आलोचना के बीच यूक्रेन ‘शांति मिशन’ का दावा

China: चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने विश्व शक्तियों से रूस और यूक्रेन के बीच सीधे संवाद फिर से शुरू करने में मदद करने का आह्वान किया है. जिनपिंग ने हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ओर्बन की बीजिंग यात्रा के दौरान यह बात कही है. शी और ओर्बन की मुलाकात मंगलवार को राजधानी बीजिंग में हुई. इससे पहले हंगरी के नेता ने रूस और यूक्रेन की यात्राएं भी की थीं ताकि संघर्ष के तीसरे साल में दोनों देश के बीच शांतिपूर्ण माहोल हो जाए.

बता दें, हंगरी ने इस महीने यूरोपीय संघ की अध्यक्षता की कमान संभाली और तब से ही ओर्बन शांति मिशन पर निकले हैं. इसी को लेकर ओर्बन ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा कि चीन रूस और यूक्रेन युद्ध में शांति कायम करने के लिहाज से एक बड़ी ताकत है. इसलिए मैं राष्ट्रपति शी से मिलने बीजिंग आया हूं.

Also read: Ancient languages : दुनिया की 5 सबसे प्राचीन भाषाएं

इधर, ओर्बन की मेजबानी करते हुए शी जिनपिंग ने रूस और यूक्रेन से युद्धविराम का आह्वान किया और अन्य प्रमुख शक्तियों से वार्ता के लिए अनुकूल माहौल बनाने का भी आग्रह किया. राज्य प्रसारक सीसीटीवी के अनुसार शी ने कहा कि जब सभी मिलकर प्रयास करेंगी तो युद्धविराम हो सकता है. उन्होंने कहा कि यह सभी पक्षों के हित में है कि प्रारंभिक युद्धविराम के माध्यम से राजनीतिक समाधान की तलाश की जाए. अपनी यात्रा के दौरान ओर्बन ने वैश्विक उथल-पुथल के बीच चीन को एक स्थिर शक्ति कहा साथ ही उसकी रचनात्मक और महत्वपूर्ण शांति पहलों की प्रशंसा भी की.

Sunil Kumar Dhangadamajhi

𝘌𝘥𝘪𝘵𝘰𝘳, 𝘠𝘢𝘥𝘶 𝘕𝘦𝘸𝘴 𝘕𝘢𝘵𝘪𝘰𝘯 ✉yadunewsnation@gmail.com

http://yadunewsnation.in